बुधवार, 7 मार्च 2012

ऐसे भी लोग

अब तक यही सुनते आये हैं कि कतिपय लोग शादी ब्याह के रिश्तों को तोड़ने में खुशी महसूस करते हैं लेकिल आज एक न्यूज ने सभी को चौका दिया कि छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी के इलाज के मामले में भी किसी ने डंडी मार दी। न्यूजीलैण्ड के चिकित्सकों को किसी ने डरा दिया कि वे अगर रायपुर आये तो उन्हें नक्सलियों से खतरा है। बेचारे विदेशियों ने डरके मारे अपनी यात्रा स्थगित कर दी। अब जोगी को बम्बई जाकर अपने आपको खडे करने के लिये मशीन लगवाना होगा। जोगी सक्षम है वे मुम्बई में जाकर अपना इलाज करवा लेंगे लेकिन इस संपूर्ण एपीसोड़ से किसे फायदा हुआ? कुछ लोगों की तो शायद आदत ही ऐसी हो गई है कि दूसरों को दुखी कर ही उन्हें खुशी महसूस होती है...यह अकेे ले इस मामले में नहीं सैकड़ो ही ऐसे किस्से हैं। पत्रकारिता के क्षेत्र में भी कई ऐसे धुरन्धर हैं जो अपने साथी से मीठे बोल बोलते हैं और पीठ में छुरा भोंकते हैं..बहरहाल इसपर कभी विस्तार से चर्चा होगी। आज होली पर इतना ही बस... होली की शुभकामनाएं मैरे सभी मित्रों और शुभचिंतकों को....